एंकर श्वेता सिंह का ‘मधुशाला’ में अटक जाना खटक गया!

0
801
अमिताभ बच्चन से बातचीत करती श्वेता सिंह - AagTak #Agenda14
अमिताभ बच्चन से बातचीत करती श्वेता सिंह - AagTak #Agenda14




ओम प्रकाश

श्वेता सिंह ने किया अमिताभ बच्चन को निराश,काश उनका दर्द ही समझ लेती

काश अमिताभ बच्चन का इंटरव्यू लेने से पहले श्वेता सिंह ने थोड़ी और तैयारी की होती
काश अमिताभ बच्चन का इंटरव्यू लेने से पहले श्वेता सिंह ने थोड़ी और तैयारी की होती

#AajTak #Agenda14 . दर्शक तो दर्शक आजतक की प्रसिद्ध एंकर श्वेता सिंह ने आज अमिताभ बच्चन को भी निराश कर दिया. मुंबई से फ्लाईट पकड़कर अमिताभ आजतक के वार्षिक कार्यक्रम ‘आजतक एजेंडा’ में शिरकत करने जब आ रहे होंगे तो ऐसा कतई नहीं सोंचा होगा कि उन्हें ऐसे हलके-फुल्के और चलताऊ सवालों से दो-चार होना पड़ेगा.

लेकिन ऐसा  हुआ. श्वेता सिंह ने रूटीन सवालों का जो सिलसिला शुरू किया वह अंत तक उससे निकल न पायी. वह सवाल करती गयी और अमिताभ बच्चन बेमन से जवाब भी देते गए और पूरा शो महज रस्मअदायगी बनकर रह गया.

ठीक इसके पहले राजदीप सरदेसाई ने ‘ये कप हमारा है’ में भारत-पकिस्तान के क्रिकेटरों से बातचीत कर जो उर्जा भरी थी वह इस इंटरव्यू के शुरू होते-होते काफूर हो गयी.

क्योंकि श्वेता सिंह की अमिताभ बच्चन से बातचीत में सवालों के अलावा वह उर्जा ही सिरे से गायब थी जो किसी भी शो की सफलता की गारंटी देती है. वही सवाल,वही जवाब,वही मधुशाला और वही विजय दीनानाथ चौहान वाले डायलॉग के लिए गुजारिश…ऑडियंस की तरफ से की जा रही गुजारिश को तो समझा जा सकता है लेकिन एंकर का मधुशाला में अटक जाना खटक गया.

श्वेता सिंह ने कई ऐसे सवाल किए जिसे सुनकर अमिताभ बच्चन का चेहरा देखने लायक था. उनके चेहरे से उनकी वेदना साफ़ झलक रही थी. एक महानायक अपने आप को ऐसे सवालों के सामने बेबस पा रहा था जिसका जवाब वह सैकड़ों बार दे चुका है. हद तो तब हो गयी जब श्वेता ने अमिताभ से ये पूछ लिया कि आप कितने घंटे सो पाते हैं? इसपर अमिताभ बच्चन ने चुटकी ली कि क्या यही जानने के लिए आपने मुझे मुंबई से दिल्ली फ्लाईट से बुलाया है? इस एक लाइन ने अमिताभ के दर्द को बयान कर दिया लेकिन अफ़सोस श्वेता महानायक के दर्द को समझ न पायी.

आजतक के एजेंडे में अमिताभ बच्चन
आजतक के एजेंडे में अमिताभ बच्चन

 




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.