इंडिया न्यूज पर आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक विनय कुमार बिन्नी ने रहस्य से पर्दा उठाया

0
471

मनीष कुमार(चौथी दुनिया)

आम आदमी पार्टी का ड्रामा शुरु हो गया

केजरीवाल बोलते अच्छा है लेकिन काम ?
केजरीवाल बोलते अच्छा है लेकिन काम ?

आज दिल्ली में केजरीवाल के पर अंडे फेके गए… ये रैली दिल्ली के सुल्तानपुर माजरा में थी.. अब ये समझ में नहीं आता है कि ये अंडे, टमाटर, स्याही या तमाचा .. यह सब हमेशा केजरीवाल के साथ ही क्यों होता है.. घटना के तुरंत बाद केजरीवाल बिना जांच बिना सबूत के बीजेपी और कांग्रेस के शीर्ष नेताओं पर आरोप मढ़ देते हैं और मीडिया में सुर्खियां भी बटोरते हैं.. अब लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी, कांग्रेस और देश भर में इतनी सारी पार्टियां है .. नेता हैं.. ये किसी के साथ नहीं होता है. ये सिर्फ केजरीवाल के साथ ही क्यों होता है… मुझे तो लगता है कि कांग्रेस पार्टी और बीजेपी इतने अपरिपक्व नहीं हैं कि वो केजरीवाल को मीडिया में छाने.. और उन्हें हीरो बनाने के लिए ये सब प्लान करेगें.

आज इंडिया न्यूज पर आम आदमी पार्टी के पूर्व विधायक विनय कुमार बिन्नी ने रहस्य से पर्दा उठाया. उन्होंने बताया कि वो केजरीवाल के साथ काम कर चुके हैं और उनकी मनसिकता से वाकिफ हैं.. उन्होंने बताया कि अंडे टमाटर स्याही थप्पड़… ये सब पार्टी की मीटिंग में तय होता है.. ये सब प्लान किया जाता है. कहां से फेंकना है . कौन फेंकेगा.. कैमरा कहां रहेगा.. अगर टीवी वाले नहीं आए तो क्या करना है… उन्होंने बताया कि पार्टी खुद ही अपना वीडियो बनाती है और फिर उसे टीवी वालों को बांटती भी हैं. उन्होंने ये भी बताया कि जब ओटोवाले ने थप्पड़ मारा. तब इस पूरे खेल से अनभिज्ञ भोलेभाले कार्यकर्ताओ ने उसकी जमकर पिटाई कर दी.. ओटोवाला कहीं राज न खोल दे.. वो कहीं सच्चाई सबको बता न दे इसलिए केजरीवाल उसके घर गए.. फल देकर आए.. ओटोवाले थप्पड़ की घटना के दौरान बिन्नी केजरीवाल के साथ थे.. इसलिए उनकी बातों पर शक भी करने की गुंजाइश नहीं है.

चौंकाने वाली बात यह है कि केजरीवाल के साथ इसके अलावा कम से कम दस बार इस तरह की घटना हो चुकी है लेकिन कभी कोई पकड़ा नहीं गया… जबकि ममता दीदी के भांजे को किसी ने थप्पड मारा तो वो पकड़ा गया.. मांझी पर चप्पल फेंकने वाला पकड़ा गया. इस तरह की घटना में आरोपी हमेशा पकड़ा जाता है..लेकिन ये अजीब इत्तेफाक है कि केजरीवाल के मामले में कभी कोई नहीं पकड़ा जाता है.. दूसरी बात यह कि वो कैसे आरोपी हैं जो दस फीट की दूरी से भी निशाना चूक जाते हैं??? इसलिए ये सवाल उठाना लाजमी है कि कहीं सुर्खियां बटोरने के लिए केजरीवाल ड्रामा तो नहीं रचते? वैसे आम आदमी पार्टी को इसकी चिंता नहीं करनी चाहिए. ऐसे कारनामे करने वालों को तो केजरीवाल ईमान देते हैं. ये नहीं भूलना चाहिए कि चिंदबरम पर चप्पल चलाने वालो को केजरीवाल ने ईनाम में लोकसभा और विधानसभा का टिकट दिया है… दिल्ली मे चुनाव है तो केजरीवाल का ड्रामा चलता ही रहेगा.. लेकिन इस बीच हमने दिल्ली चुनाव पर आज न्यूज रूम चैट किया .. इसे देखिए और अपने कमेंट कीजिए.. @fb

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.