दलितों के गांव पर अभिज्ञान प्रकाश की बेहतरीन स्टोरी

0
385

वेद उनियाल

दलितों के गांव पर स्टोरी –
एनडीटीवी में अभिज्ञान प्रकाश की दलितों के गांव पर एक स्टोरी मन को छू गई। लोकसभा के चुनाव में .यह सबसे अच्छी न्यूज स्टोरी में एक है। असली भारत की तस्वीर को सामने दिखाती हुई।

इलाहाबाद से केवल सत्तर किमी दूर एक गांव में लोग किस हालत में रह रहे हैं और उनकी तकदीर कैसी है, सब कुछ इसमें झलकता रहा। चुनाव की इस बेला में हमें जानना चाहिए कि हमारे गांव कैसे हैं, लोग किस तरह जिंदगी जी रहे हैं। उस गांव के राहुल को किस तरह अपनी साइकिल में पानी भरकर तीन किमी तक जाना होता है।

मेहमानों को वह प्यार से बताशा पानी देते हैं। उनमें प्यार है, इसानियत है, जीवन के प्रति धुंधली सी कोई आशा है। यह गांव भी छह दशक पहले आजाद हुआ था। मगर यहां झोपड़ियों में अंधेरा है।

अभिज्ञान प्रकाश को एक बेहतर स्टोरी करने पर बधाई। टीवी का सबसे अच्छा उपयोग यही है कि हम अपने असली भारत को देख समझ पाएं।

(स्रोत-एफबी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven + 11 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.