सरफराज़ सैफी बने सहाना फिल्म्स के वाइस प्रेसिडेंट, दस चैनल होंगे लॉन्च

0
732
सरफराज़ सैफी, वायस प्रेसिडेंट, सहाना फिल्म्स
सरफराज़ सैफी, वायस प्रेसिडेंट, सहाना फिल्म्स

सरफराज़ सैफी सहाना फिल्म्स के वाइस प्रेसिडेंट बन गए हैं. अब तक वे विजन वर्ल्ड के साथ बतौर एक्जीक्यूटिव एडिटर जुड़े हुए थे. विजन वर्ल्ड को उन्होंने ही लॉन्च करवाया था. वैसे इसके पहले वे एस1, आजाद न्यूज़, न्यूज़ एक्सप्रेस और महुआ न्यूज़लाइन के भी लॉन्चिंग टीम में रह चुके हैं. अब छठी बार किसी चैनल के लॉन्चिंग टीम का वो हिस्सा बनने वाले हैं. वैसे उनके करियर का यह सबसे बड़ा प्रोजेक्ट होगा. क्योंकि यह बड़ा प्रोजेक्ट है और इसके तहत दस चैनल लॉन्च किए जाने हैं. उन्हें पूरे ग्रुप का वाइस प्रेसिडेंट – ऑपरेशन बनाया गया है और दिल्ली की पूरी ज़िम्मेदारी भी उनके अधीन ही होगी.

 

सहाना फिल्म्स सुधाकर शेट्टी की रियल स्टेट कंपनी सहाना ग्रुप का मीडिया विंग है. ग्रुप के कंस्ल्टिंग एडिटोरियल डायरेक्टर वाहिद अली खान हैं जिनकी अगुवाई में सहाना फिल्म्स के चैनलों को लॉन्च करने की रूपरेखा खींची जा रही है. इस कड़ी में सबसे पहले चैनल के रूप में मराठी चैनल ‘जय महाराष्ट्रा’ को 27 तारीख को मुंबई के फाइवस्टार होटल में लॉन्च किया जाएगा. उम्मीद की जा रही है कि लॉचिंग पार्टी भव्य होगी.

 

ख़बरों के मुताबिक सहाना फिल्म्स साल के अंत तक राष्ट्रीय हिंदी चैनल भी लॉन्च कर देगा. इसके अलावा सात क्षेत्रीय चैनल, दो संगीत चैनल और एक मनोरंजन चैनल भी लॉन्च करने की ग्रुप की योजना है.

 

नयी पारी और उज्जवल भविष्य के लिए सरफराज़ सैफी को शुभकामनाएं. बेहद कम समय में ही तरक्की की सीढियाँ चढ़ते हुए वे किसी ग्रुप के वायस प्रेसिडेंट बन गए. बहरहाल उनका एक संक्षिप्त परिचय.

 

सरफराज सैफी (परिचय) : क्षेत्रीय चैनलों की दुनिया में सरफराज़ सैफी जाना – पहचाना चेहरा हैं. खासकर उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड के दर्शकों के बीच उनकी अच्छी पहचान है. वे विजन वर्ल्ड के पहले महुआ न्यूज़लाइन के साथ जुड़े हुए थे और चैनल का चेहरा भी थे. महुआ न्यूज़ के लॉन्चिंग टीम के भी वे अहम सदस्य थे.

 

ब्यूरोक्रेसी और राजनीति पर अच्छी पकड़ रखने वाले सरफराज ने महुआ न्यूज़लाइन में रहते हुए क्षेत्रीय स्तर की कई बड़ी ख़बरें ब्रेक की. महुआ न्यूज़लाइन ने ही सबसे पहले ये खबर चलायी थी कि यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव होंगे. ये खबर सरफराज़ ने ही सबसे पहले ब्रेक की थी.

 

यूपी और उत्तराखंड के लोकप्रिय कार्यक्रम ‘किसकी बनेगी सरकार’ की एंकरिंग भी वे ही करते थे और इस दौरान दोनों प्रदेशों में घूम – घूमकर राजनीतिक जायजा लिया. इसी कार्यक्रम के तहत उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार बनेगी, इसकी भविष्वाणी की गयी थी जो अंततः सच साबित हुई.

 

सरफ़राज़ सैफी ने अपने पत्रकारिता करियर की शुरुआत बतौर क्राइम रिपोर्टर की. शुरूआती दौर में आजतक के साथ बतौर ट्रेनी रिपोर्टर काम किया. वैसे कुल 12 वर्षों का उन्हें काम का अनुभव है. खास बात ये रही कि कम समय में तरक्की की सीढियाँ चढ़ते हुए वे एस1 टीवी, आज़ाद न्यूज़, न्यूज़ एक्सप्रेस, महुआ न्यूज़लाइन और विजन के लॉन्चिंग टीम का हिस्सा रहे.

 

सरफराज़ महुआ न्यूज़ लाइन से पहले राष्ट्रीय चैनल न्यूज़ एक्सप्रेस में बतौर एंकर काम कर रहे थे. वैसे उन्होंने अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से जर्नलिज्म में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है और पत्रकारिता के कई सम्मान भी उन्हें अबतक मिल चुके हैं. उन्हें 2009 में नेशनल टेलीविजन जर्नलिज्म अवार्ड (बेस्ट क्राइम रिपोर्टर) और 2010 में राजीव गाँधी ग्लोबल एक्सेलेंस अवार्ड (बेस्ट यूथ एंकर) भी मिल चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + 10 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.