तरुण तेजपाल को फंसाने में महिला पत्रकार के साथ-साथ कहीं शोमा चौधरी का दिमाग तो नहीं?

0
805

शैलेन्द्र पाण्डेय

Tehelka Sex Scandal: तरुण तेजपाल, तहलका, आजकल सुर्ख़ियों में है, हो भी क्यों न आरोप ही ऐसा है, मुझे समझ में नहीं आता कि एक ऐसे आदमी जिसकी नजदीकियां पाने के लिए लड़किया आतुर रहती है उसने कुछ सेकंड में लिफ्ट में ऐसा क्या कर दिया कि बवंडर मच गया.

आरोप किसने लगाया जब इसका मुझे पता चला तो समझते देर न लगी कि इसके पीछे गहरी साजिश हो है. मेरा लिखना उचित नहीं है लेकिन कृपया ये भी जानने का भी प्रयास करें कि आरोप लगाने वाली पत्रकार क्या खाती है क्या पीती है क्या लाइफ स्टाइल है. अभी मै उसका फेसबुक अकाउंट सर्च कर रहा था तो नहीं नहीं मिला, पता चला डिलीट कर दिया गया है. ऐसा क्यों किया पता नहीं, कि आखिर वो क्या छिपाना चाहती है.

इतनी तेज होने के बावजूद एक बार यदि तरुण ने उसे इन्सल्ट किया फिर दोबारा तरुण के साथ जानते हुए भी लिफ्ट में कैसे चली गई. तहलका में मै फ़ोटो डिपार्टमेंट का चीफ था लेकिन तरुण जब सीढ़ियों से आ या जा रहे होते थे तो सम्मान में साइड में होकर रास्ता दे दिया करता था. उनके साथ लिफ्ट में एक साथ चलने कि तो सोच भी नहीं सकता था. वो तो रिपोर्टर थी, बस इतना कह रहा हूँ कि ७ स्टार होटल कि लिफ्ट को कुछ सेकंड लगते है एक मंजिल से दूसरी मंजिल पहुँचने में और फिर यदि पहली बार तरुण ने कुछ किया भी तो दूसरी बार क्यों सामने आयी और मौका दिया, इतनी प्रोफेशनल कि कम्प्लेंट के बजाय काम को तरजीह दी, अच्छी बात है फिर गोआ इवेंट के बाद पुलिस का सहारा क्यों नहीं लिया.

यदि तरुण को साजिश में फंसाया जा रहा है तो वो इसमे अकेले नहीं है, माननीया शोमा चौधरी का दिमाग इसके पीछे हो सकता है. क्योकि तरुण के बाद वो ही तहलका कि चीफ होंगी. इसीलिए तरुण को मेल लिखने के लिए बोला और वो सभी को फॉरवर्ड भी किया.

१५ साल से ज्यादा पुरानी दोस्ती भी दिमाग में न आयी और ब्रम्हास्त्र चला दिया जिससे कोई भी पुरुष बच नहीं सकता है. मेरी इच्छा है कि उस होटल कि सभी कैमरों कि जाँच हो और यदि ये साजिश है तो सामने आये नहीं तो तरुण जेल जाए.

(स्रोत-एफबी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.