कमर वहीद नकवी ने मोदीनामा प्रसारित होने के पहले इस्तीफा क्यों नहीं दिया?

0
201

विनीत कुमार

यदि नकवीजी के इंडिया टीवी से इस्तीफा दिये जाने की वजह आप की अदालत का मोदी की अदालत बन जाना है तो रजत शर्मा की साख की तो कायदे से बत्ती लग गयी.

इसे ऐसे भी कहा जा सकता है की खुद प्रोग्राम आपकी अदालत कटघरे में आ गया है जो कि 21 साल से एक ख़ास सम्मान और भरोसे के साथ देखा जा रहा था. ऐसा होने से चैनल और रजत शर्मा की साख पर कायदे से डेंट पड़ी है. काश वो ये एपिसोड ऑन एयर होने के पहले दे देते..

पुण्य प्रसून ने भी दागदार संपादक की गिरफ्तारी को आपातकाल करार देकर इस्तीफा दिया था और ये मोदिनामा होने के बाद..खैर, नकवीजी जब तक ऐसे किसी मीडिया संस्थान से दोबारा से नहीं जुड़ते,तब तक के लिये उनका इस्तीफा, इस्तीफा से आगे की चीज़ मानी जायेगी.बर्दाश्त की भी एक सीमा होती है.कब तक का सवाल के साथ भी..

(स्रोत-एफबी)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − seven =