महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव पर इंडिया न्यूज़ का सर्वे,महाराष्ट्र में एनडीए टूटा तो यूपीए की बल्ले-बल्ले

0
300

नई दिल्ली, 19 सितंबर, 2014.महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन टूटा तो इसका सीधा फायदा यूपीए यानी कांग्रेस-एनसीपी को मिलेगा. इंडिया न्यूज़-द सनडे गॉर्जियन और सी-वोटर सर्वे में ये बात साफ तौर पर उभर कर सामने आई है.

बीजेपी-शिवसेना के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर चल रही तनातनी के बीच इंडिया न्यूज़-द सनडे गॉर्जियन-सी वोटर ने महाराष्ट्र के वोटरों का मन टटोला. सितंबर के दूसरे हफ्ते तक 3 हज़ार से ज्यादा लोगों के बीच इस सर्वे के मुताबिक एनडीए में टूट की स्थिति में यूपीए को फिर 175 सीटों के साथ पूर्ण बहुमत मिलने का अनुमान है जबकि अलग-अलग लड़ने पर बीजेपी को 47 और शिवसेना को 36 सीटें मिल सकती हैं.

शिवसेना की बजाय अगर बीजेपी और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का गठबंधन हो तो क्या होगा? सर्वे में इस सवाल पर लोगों की राय से पता चलता है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना और बीजेपी का गठबंधन दोनों के लिए फायदेमंद होगा लेकिन यूपीए को रोक पाने में असरदार नहीं होगा. सर्वे के मुताबिक एमएनएस-बीजेपी गठबंधन को 107 सीटें मिल सकती हैं. ये गठबंधन लड़ता है तो यूपीए का ग्राफ 140 सीटों तक जा सकता है. एमएनएस और बीजेपी का गठबंधन होने पर शिवसेना को सिर्फ 29 सीटें मिलने का अनुमान है.

अगर एनडीए का गठबंधन कायम रहा तो सर्वे के मुताबिक यूपीए के लिए सत्ता में वापसी बेहद मुश्किल हो सकती है. सर्वे बताता है कि अगर शिवसेना-बीजेपी ने साथ चुनाव लड़ा तो एनडीए को 198 सीटें मिल सकती हैं जबकि यूपीए का ग्राफ 64 सीटों तक सिमट सकता है.

महाराष्ट्र में यूपीए की मौजूदा सरकार के प्रदर्शन पर सर्वे में शामिल 20 फीसदी लोगों ने कहा कि वो पृथ्वीराज चव्हाण सरकार से बहुत खुश हैं. 33 फीसदी ने कहा है कि वो सरकार से एक हद तक संतुष्ट हैं जबकि 46 फीसदी का कहना था कि वो मौजूदा सरकार से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के प्रदर्शन पर सर्वे में 22 फीसदी लोगों ने बहुत संतुष्टि जताई है जबकि 45 फीसदी का कहना था कि वो चव्हाण के कामकाज से बिल्कुल संतुष्ट नहीं हैं.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव पर इंडिया न्यूज़ का ये पहला सर्वे है जिसका प्रसारण आज रात 8 बजे इंडिया न्यूज़ चैनल के कार्यक्रम टुनाइट विद दीपक चौरसिया में हुआ.

सर्वे– इंडिया न्यूज़ की टीम ने महाराष्ट्र में 3096 लोगों के बीच ये सर्वे सितंबर के दूसरे सप्ताह तक किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven + one =