‘ऑपरेशन’ के मास्टर ‘दीपक शर्मा’ के प्रोफाइल पर डालें एक नज़र

0
368
दीपक शर्मा,एंकर व एडिटर (इन्वेस्टिगेशन),आजतक
दीपक शर्मा,संपादक,इंडिया संवाद

आजतक के दीपक शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. बकायदा एफबी पर उन्होंने ये सूचना भी दी कि वे नयी राह पर चलने जा रहे हैं. उम्मीद करते हैं कि नयी राह पर भी वे इतने ही सफल होंगे और उनकी ‘खोज’ जारी रहेगी. अपने अबतक के पत्रकारिता जीवन में उन्होंने कई बड़े खुलासे किए है. अंडरवर्ल्ड के अलावा भी उन्होंने हाल के वर्षों में कई ऐसी ख़बरें की जिससे चुनाव,राजनीति और सामाजिक समीकरण पर सीधा असर पड़ा. उनका करियर लंबा-चौड़ा है जिसके बारे में फिर कभी जानकारी देंगे. अभी उनके संक्षिप्त प्रोफाइल पर डालिए एक नज़र –

दीपक शर्मा का प्रोफाइल (स्रोत-आजतक)

दीपक शर्मा,एंकर व एडिटर (इन्वेस्टिगेशन),आजतक
दीपक शर्मा,एंकर व एडिटर (इन्वेस्टिगेशन),आजतक
ऑपरेशन दंगा की कामयाबी के बाद पुण्य प्रसून के साथ दीपक शर्मा (दायें)

दीपक शर्मा सबसे बहुमुखी खोजी पत्रकारों में से एक हैं. भारतीय उपमहाद्वीप में आतंकी नेटवर्क और माफिया गिरोहों के विषय में वो गहरी अंतर्दृष्टि रखते हैं. चाहे वह तालिबान मिलिशिया के साथ सीधी बातचीत करना हो या फिर कराची स्थित अंडरवर्ल्ड सरगना दाऊद के गुर्गों के साथ बातचीत, दीपक ने हमेशा ही सबसे पहले महत्वपूर्ण खबरों को ब्रेक किया है.

प्रिंट मीडिया और टीवी पत्रकारिता में 18 साल का लंबा अनुभव लिये दीपक ने अपने कॅरियर की शुरुआत दैनिक जागरण के साथ की थी. उसके बाद वो अंग्रेजी अखबार द पायनियर के लिए काम करने लगे.

वर्ष 2002 में उन्‍होंने विशेष संवाददाता के रूप में आज तक ज्‍वाइन किया और वर्तमान में वो एडीटर के रूप में आज तक में विशेष खोजी टीम का नेतृत्‍व करते हैं. वाजपेयी सरकार के कार्यकाल में दीपक ने तत्‍कालीन रक्षा सौदों की जांच पड़ताल की और कांग्रेस नीत तत्‍कालीन विपक्ष ने संसदीय मामलों की समिति के कागजात पर आधारित दीपक की रिपोर्ट के आधार पर वाजपेयी सरकार के खिलाफ एकमात्र अविश्‍वास प्रस्‍ताव संसद में पेश किया था. दीपक ने कई घोटालों का भी पर्दाफाश किया जिसमें मशहूर तेलगी स्‍टांप घोटाला भी शामिल है.

वेस्‍टइंडीज में हुए क्रिकेट विश्‍वकप में भारत की जबरदस्‍त हार के बाद राष्‍ट्रीय चयनकर्ताओं का स्टिंग ऑपरेशन करनेवाली टीम का नेतृत्‍व भी दीपक शर्मा ने ही किया था. स्टिंग ऑपरेशन के जरिए नकली दवा बनाने के कारोबार का खुलासा भी दीपक और उनकी टीम ने किया था जिसके बाद देशभर में जागरुकता फैली और नकली दवा बनाने वाले केंद्रों पर छापे मारे गए.

दीपक और उनकी टीम ने ही स्टिंग ऑपरेशन के जरिए बॉलीवुड और अंडरवर्ल्‍ड के संबंधों पर से पर्दा उठाया था जिसमें जासूसी कैमरे के सामने फिल्‍मी सितारों, निर्माताओं और निर्देशकों ने कबूल किया था कि माफिया सरगना दऊद इब्राहिम बॉलीवुड की फिल्‍मों में पैसा लगा रहा है.

 

दीपक शर्मा से मधु त्रेहान की खास बातचीत –

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 2 =