पत्रकारिता के विद्यार्थियों ने समझा युद्ध कौशल

0
315




भोपाल। माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय के जनसंचार विभाग के विद्यार्थियों ने बैरागढ़ में सेना द्वारा विकसित युद्ध स्थल का भ्रमण किया। यहाँ सेना के अधिकारियों ने विद्यार्थियों को सैन्य गतिविधियों, सैन्य उपकरणों और युद्ध कौशल की जानकारी दी। इसके साथ ही विद्यार्थियों ने वृतचित्र (डॉक्यूमेंट्री) के जरिये सैन्य जीवन की चुनौतियों को भी समझा। सेना और देश की सुरक्षा के सम्बन्ध में तथा युद्ध के अवसर पर पत्रकारिता करते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, इस सम्बन्ध में भी सेना के अधिकारियों ने विद्यार्थियों को महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

बैरागढ़ स्थित सैन्य क्षेत्र में अध्ययन भ्रमण के लिए गए जनसंचार विभाग के विद्यार्थियों ने सेना के कर्तव्य और सेना की संगठनात्मक संरचना की जानकारी प्राप्त की। इस दौरान उन्होंने सेना परिसर में स्थित युद्ध में उपयोग किये जाने वाले घातक अस्त्र-शस्त्र एवं अन्य सैन्य उपकरणों का न केवल अवलोकन किया, बल्कि उनके सम्बन्ध में महत्वपूर्ण जानकारी भी प्राप्त की। विद्यार्थी यहाँ प्रदर्शित शहीदों के चित्रों के जरिये उनके बलिदान से भी रूबरू हुए। सेना के अधिकारियों ने बताया कि सेना देश की सीमाओं की रक्षा ही नहीं करती है, बल्कि इसके अलावा शांति और सेवा के क्षेत्र में भी बड़े स्तर पर काम करती है।

पर्यटन के रूप में विकसित किया जा रहा है युद्धस्थल : सेना के अधिकारियों के विद्यार्थियों को बताया कि बैरागढ़ में सेना द्वारा विकसित युद्ध स्थल को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। भविष्य में यहाँ पर्यटक सैन्य गतिविधियों को अनुभव कर पाएंगे।




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − fifteen =