IIT की पढाई आइडिया के IIN से रिप्लेस किया जा सकता है?

1
3824
IIT की पढाई आइडिया के IIN से रिप्लेस किया जा सकता है?
IIT की पढाई आइडिया के IIN से रिप्लेस किया जा सकता है?

ड्रोन कैमरे को पॉपुलर बनाता विज्ञापनःआईआईएन




IIT की पढाई आइडिया के IIN से रिप्लेस किया जा सकता है?
IIT की पढाई आइडिया के IIN से रिप्लेस किया जा सकता है?
राष्ट्रगान के अंदाज में गाए जानेवाले “अब नहीं बनेंगे उल्लू” जैसे बेहद ही घटिया विज्ञापन के बाद आइडिया एक बार फिर अपने नए विज्ञापन की तरफ ध्यान खींचता है. इस बार का विज्ञापन अभिषेक बच्चन की सीरिज के विज्ञापन से कहीं ज्यादा अपीलिंग है.

इस विज्ञापन से गुजरते ही सबसे पहले आपको थ्री इडियट्स की थीसिस और खासकर रणछोड़ दास की एप्रोच का ध्यान आएगा. तब तो और भी ज्यादा जब आइआइटी में नाकाम बेटे को पिता हर बात में उड़कर आएंगे क्या के ताने देते हैं और सच में चीजें टॉकिंग ड्रोन के जरिए उड़कर आती हैं.

विज्ञापन में सबसे खास बात है कि जो मोबाईल और इंटरनेट पूरी तरह फेसबुक और व्हॉट्स करते रहने के कारण गार्जियन की नजरों में गिर जाए, उसके पहले ही ये विज्ञापन इसे ज्ञान का मंदिर के रूप में इमेट विल्ड अप करता नजर आता है. आइआइटी की पढ़ाई को आइडिया इन्टरनेट से रिप्लेस किया जा सकता है जिसके दावे दूसरे करोड़ों की लागत के प्राइवेट कॉलेज तक नहीं करते.

दूसरा कि विज्ञापन में जितनी इमोशनल अपील है, उससे कहीं ज्यादा हायपर लॉजिकल अपील. और ये लॉजिक इतनी मजबूती से रखी जाती है कि आगे एक ऐसी फैंटेसी की दुनिया में ले जाती है जहां शिक्षक, संस्थान और बिल्डिंगों की अलग से जरूरत नहीं रह जाती. जहां-जहां इमोशन है वहां एग्री यंग मैन के दौर के सिनेमा की याद दिलाता हुआ कि इच्छाशक्ति हो तो बिस्कुट बेचते हुए, आइडिया इंटरनेट इस्तेमाल करते हुए भी ड्रोन इन्वेंटर बना जा सकता है.

और तीसरी बात कि इस विज्ञापन के जरिए ड्रोन कैमरे लोगों के बीच अपेक्षाकृत ज्यादातर पॉपुलर होंगे. 2014 के लोकसभा चुनाव, हरियाणा विधानसभा चुनाव और दिल्ली के त्रिलोकपुरी दंगे के अलावा वैसे भी न्यूज चैनलों में इसकी चर्चा न के बराबर ही हुई है.




(मूलतः तहलका में प्रकाशित)

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve − 2 =