चेतन भगत की किताब हाफ गर्लफ्रेंड के खिलाफ प्रदर्शन,अभिनेत्री नीतू चंद्रा भी नाराज

0
396
चेतन भगत
चेतन भगत

उपन्यासकार चेतन भगत की किताब चर्चा के केंद्र में है और इसकी बिक्री भी खूब हो रही है. लेकिन साथ ही इसका विरोध भी शुरू हो गया है. बिहार के डुमराव(बक्सर) के लोग चेतन भगत से कुछ इस कदर खफा हैं कि उन्होंने चेतन भगत का पुतला फूंका और उनकी किताब ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ की प्रतियाँ आग के हवाले की.

दरअसल चेतन भगत का नया उपन्यास ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ बिहारी पृष्ठभूमि पर है जिसमें एक बिहारी लड़के और शहरी लड़की की प्रेम कहानी है. कहानी में बिहारी लड़के को अंग्रेजी नहीं आती है लेकिन फिर भी अपनी टूटी-फूटी अंग्रेजी और सादगी से वो शहरी लड़की का दिल जीतने की कोशिश करता है.

‘हाफ गर्ल फ्रेंड’ में डुमराव राजपरिवार सहित डुमराव के प्रति कथित अपमानजनक टिप्पणी अंकित किये जाने पर राज परिवार के युवराज चंद्रविजय सिंह ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.गौरतलब है कि चेतन भगत के नये नॉवेल ‘हाफ गर्लफ्रेंड’ के पेज नंबर 25 पर डुमरांव के शाही घराने का जिक्र है. विरोध प्रदर्शन करने वाले लोगों का कहना है कि चेतन भगत ने जानबूझकर डुमरांव गांव के शाही घराने को निशाना बनाया है.

बिहार मूल की अभिनेत्री ‘नीतू चंद्रा’ ने भी आपत्ति दर्ज कराते हुए फेसबुक पर लिखा है कि – ‘उन्होंने अपने बिहारी हीरो को अंग्रेजी में खराब दिखाया है, जो डुमरांव से आता है। लेकिन मैं आपको बताना चाहती हूं कि इस देश में पहली अंग्रेजी नॉवेल 1793 में बिहार में भोजपुर के रहने वाले दीन मोहम्मद ने लिखा था। आप असफल रहे चेतन।बिहारियों की अंग्रेजी आपकी कल्पना से कहीं ज्यादा बेहतर है। भगत भाई, बिहार की आंख से देखा जा के, खाली कान से मत सुना।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + 1 =