प्रेस कांफ्रेंस से जब भाग खड़े हुए आशुतोष

0
289

प्रेस कांफ्रेस से भाग खड़े हुए पूर्व पत्रकार आशुतोष, पर पहले पढ़िए पत्रकार हर्ष रंजन की टिप्पणी :

केजरीवाल जनता दरबार छोड़कर भाग खड़े हुए। फिर कहा कि दरबार ऑनलाईन लगेगा। आज आशुतोष हरिद्वार में प्रेस कॉंफ्रेस छोड़कर भाग खड़े हुए। अब क्या प्रेस कॉंफ्रेस भी ऑनलाईन होगें? भाई जब पत्रकार थे, तो नेता (कांशीराम) भगा देते थे। अब नेता बने तो पत्रकार भगा दे रहे हैं। ये क्या और क्यों हो रहा है, जो नहीं होना चाहिये।

अब पढ़िए खबर:

कुमार विश्वास का आशुतोष को लेकर ट्वीट
कुमार विश्वास का आशुतोष को लेकर ट्वीट

आम आदमी पार्टी के नेताओं को लगातार विरोध झेलना पड़ रहा है. पहले अमेठी में कुमार विश्वास को अंडे, काले झंडे और नारेबाजी का सामना करना पड़ा तो आज बारी थी आशुतोष और संजय सिंह की. दोनों नेताओं के सामने तो कुर्सियां चलीं जिस वजह से उन्हें प्रेस कॉन्फ्रेंस के बीच से ही जाना पड़ा.
बुधवार का दिन AAP के लिए जबरदस्त हंगामे का दिन रहा. पहले पार्टी के कार्यकर्ता मंच पर बैठने को लेकर आपस में ही भिड़ गए फिर पार्टी की प्रेस कॉन्फ्रेंस में कुछ लोगों ने जमकर हंगामा किया. इस दौरान कुर्सियां भी चलीं.

दरअसल, आज ऋषिकेश में 2014 लोकसभा चुनावों की रणनीति बनाने के लिए पार्टी की बैठक हुई. इसमें सूबे के 13 जनपदों के संयोजक, पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया. लेकिन मीटिंग में मंच पर बैठने को लेकर ही हंगामा मचा. पार्टी के कई कार्यकर्ता देहरादून के प्रभारी पूजा दोखंडी को मंच पर बिठाने से नाराज हो गए. स्थिति बिगड़ता देख संजय सिंह व आशुतोष ने मोर्चा संभाला और मंच से नीचे उतरकर कार्यकर्ताओं के बीच में बैठ गए. जिसके बाद स्थिति संभली.

हालांकि, लंच के बाद हालात उस वक्त और खराब हो गए, जब आशुतोष और संजय सिंह मीडिया से मुखातिब हो रहे थे. इस दौरान अचानक ही कुछ लोग वहां पर पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी. विरोध करने वाले लोगों का आरोप था कि AAP आम आदमी को भी धोखा दे रही है जैसा उसने अन्ना हजारे के साथ किया. उन्होंने पार्टी के एक नेता से जुड़े एनजीओ में काले धन का मुद्दा भी उठाया.

प्रेस कॉन्फ्रेंस रोके जाने से नाराज AAP कार्यकर्ताओं ने इन प्रदर्शनकारियों के खिलाफ जवाबी नारेबाजी शुरू कर दी. जहां एक तरफ प्रदर्शनकारी संजय सिंह मुर्दाबाद और आशुतोष मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे वहीं AAP कार्यकर्ता बीजेपी मुर्दाबाद कहकर जवाब दे रहे थे. नारेबाजी में माहौल इतना बिगड़ गया कि दोनों पक्षों में हाथापाई शुरू हो गई और इसके बाद कुर्सियां तक चलीं. स्थिति बिगड़ता देख आशुतोष और संजय सिंह को वहां से हटना पड़ा.

हालांकि, बाद में संजय सिंह ने आरोप लगाया कि यह सब बीजेपी का करवाया हुआ है. (स्रोत-आजतक)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + 9 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.