मोदी को मीडिया में पछाड़ चुके हैं योगी आदित्यनाथ

0
1047

योगी आदित्यनाथ के नाम के साथ ही उ.प्र.के मुख्यमंत्री को लेकर चल रहा रहस्य ख़त्म हो गया. वैसे मोदी अंततः योगी को यूपी की बागडोर सौंपेंगे ऐसा किसी ने सोंचा नहीं था. बड़े-से-बड़े राजनीतिक विश्लेषक भी हैरान है. इसी मुद्दे पर प्रो.जगदीश्वर चतुर्वेदी की कुछ टिप्पणियाँ –

1-अंतत: योगी आदित्यनाथ यूपी के मुख्यमंत्री बने! हमने जो कुछ लिखा वह सिद्ध हुआ।यूपी में बहुसंख्यकवाद की जीत हुई, सबसे ज्यादा क्रिमिनल केस के अभियुक्त को मुख्यमंत्री बनाकर पीएम मोदी ने अपनी राजनीतिक साख खत्म कर दी। बहुसंख्यकवाद और अपराधीकरण मार्च ऑन !मार्च ऑन!

2- यूपी में रचा जा रहा हिन्दू महाख्यान पूरे यौवन के साथ सामने आ गया है !यह दूसरा अध्याय है ,कहानी अभीबाकी है!

3-कल से मनोज सिंहा सीएम बन रहे थे , मीडिया उनके गुणों की वर्षा कर रहा था ! यह भाजपा नेताओं की मीडिया दवाब की रणनीति थी जिसके जरिए वो अपने आंतरिक झगड़े को ढकना चाहती थी , लेकिन योगी ने यह संभव होने नहीं दिया।भाजपा की मुश्किल है कि योगी को मुख्यमंत्री बनाया तो मुश्किल है और न बनाया तो मुश्किल! योगी आदित्यवार को यदि मुख्यमंत्री बनाते हैं तो यह मोदी की सबसे बडी पराजय होगी, योगी को मोदी ने केन्द्रीय मंत्रीमंडल में जगह न देकर जो इमेज बनायी थी वह तकरीबन नष्ट हो चुकी है।
योगी ने मीडिया में मनोज सिंहा के पक्ष में चलायी जा रही खबरों को आउट करके मोदी को मीडिया में पछाड़ चुके हैं!
योगी की दोपहर से जो इमेज वर्षा हो रही है वह रीयलसेंस में भाजपा के अर्थ को प्रकट करती है!
आक्रामक हिन्दुत्व यही है भाजपा की इमेज!
थैंक्स योगी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven + 1 =