www.mediakhabar.com Send Your News & Views on mediakhabaronline@gmail.com www.mediakhabar.in
You Are Here: Home » Picture of the day » आजतक की श्वेता सिंह मार-काट के लिए तैयार

आजतक की श्वेता सिंह मार-काट के लिए तैयार

मामला भारत – पाकिस्तान का हो तो देश के नंबर एक चैनल का दंभ भरने वाले चैनल आजतक कुछ ज्यादा ही आक्रामक मुद्रा में आ जाता है और अपने एंकरों की पूरी टोली को पाकिस्तान को ऑनस्क्रीन ही निपटाने में लगा देता है.

ताजा मामले में भी एक बार फिर ऐसा ही हुआ. भारत और पाकिस्तान के बीच नियंत्रण रेखा पर शहीद हुए भारतीय जवानों के परिजन शोक में डूब गए हैं और साथ ही इस घटना से देश में भी पाकिस्तान के खिलाफ गुस्से की लहर है.

चैनल इसी गुस्से को और हवा देने के उद्देश्य से लगातार ऐसी ख़बरें दनादन कर रहा है जिससे गुस्सा और बढे. पोल और जनमत के नतीजे टीवी स्क्रीन पर चलाये जा रहे हैं. ऐसा लगता है कि युद्ध का बिगुल आजतक पर फूंक ही दिया गया है और आजतक के एंकर श्वेता सिंह और पुण्य प्रसून पाकिस्तान को नेस्तनाबूद करके ही मानेगे. वैसे दूसरे चैनल भी इसमें पीछे नहीं है. देखिए कुछ तस्वीरें :

Clip to Evernote

About The Author

मीडिया खबर डॉट कॉम :

मीडिया खबर डॉट कॉम मीडिया इंडस्ट्री पर केंद्रित वेबसाईट है. साल 2008 में इसे लॉन्च किया गया था. तब से लगातार यह काम कर रही है. यह भारत की पहली द्विभाषीय मीडिया वेबसाईट भी है. 27 जून को हरेक साल मीडिया खबर की तरफ से एक मीडिया कॉनक्लेव (Media Khabar's Media Conclave) का आयोजन भी किया जाता है जिसमें टेलीविजन इंडस्ट्री के विविध पहलुओं पर परिचर्चा होती है. मीडिया खबर को सुझाव, सूचना, शिकायत या आलेख mediakhabaronline@gmail.com पर भेज सकते हैं. Websites : http://mediakhabar.com , http://mediakhabar.in , http://politicalkhabar.in

Number of Entries : 1219
  • http://hunkaar.com vineet kumar

    श्वेता सिंह बेवजह अपनी सहयोगी अंजना कश्यप से होड़ करने लग गयी हैं, जिसकी न तो कोई जरुरत है और जो करने पर बेहद ही फूहड़ लगता है..अंजना कश्यप के पास तो शब्द नहीं है, भाषा नहीं है तो अपनी कमजोरी को दांत भींचकर-हाथ लहराकर भाव-भंगिमा पैदा करने की नाकाम कोशिशें करती हैं. श्वेता सिंह के पास तो अपेक्षाकृत ज्यादा समझ और भाषाई कौशल है.ऐसे वो वो जितनी शांत और गंभीर ढंग से खबरें पेश करेंगी, हम दर्शक उससे उतने ही गहरे जुड़ सकेंगे..खासकर जब मामला पाकिस्तान जैसे संवेदनशील मुद्दे पर कार्यक्रम पेश करने की हो..अंजना कश्यप को तो न्यूजरुम और सर्कस में फर्क समझ नहीं आता, अब श्वेता सिंह को भी न समझ आने लगे तो आजतक की स्क्रीन टीवी की कम तंबोला का बोर्ड ज्यादा लगने लगेगा जहां सिर्फ काटा-काटी चलता रहता हैं.

Scroll to top