सहारा में बस का डीएनए टेस्ट, महिला एंकर की समझ का फेर

2
263

Sahara Samay

 

सहारा समय जैसा चैनल है, ठीक वैसे ही वहां कुछ एंकर भी हैं. ये एंकर शक्ल – सूरत में तो ठीक है लेकिन बुद्धि और सोंच – समझ के मामले में पूरे पैदल. भाषा और शब्दों की संवेदना से कोसों दूर.

अब ताजा मामला देखिए. दिल्ली सामूहिक दुष्कर्म मामले में सहारा की एक महिला एंकर ने बस का ही डीएनए टेस्ट करवा दिया. सहारा समय (राष्ट्रीय) पर खबर पढ़ने वाली मोहतरमा एंकर ने सवाल की शक्ल में पूछ लिया कि बस का डीएनए टेस्ट ………!

मोहतरमा का नाम जाने दीजिए. उनका करियर प्रभावित हो जाएगा. हाँ लेकिन जरूर बता सकते हैं कि ये पहले भी ऐसी गलतियाँ करती रही हैं. बहरहाल इस बार मोहतरमा बुरी फंसी और सजा भी मिली.

 

बस का डीएनए टेस्ट करवाने की एवज में तीन दिनों के लिए सस्पेंड कर दिया गया. जिल्लत झेलनी पड़ी , सो अलग.

देखिए ये तो होना ही था. आखिर लटके – झटके से कोई कितने दिन तक सर्वाइव करेगा. मोहतरमा की पिछले प्रबंधन में मौज थी. उनके सौ खून भी माफ. सो गलतियाँ नज़रअंदाज कर दी जाती थी.

लेकिन नए प्रबंधन में दाल अबतक गल नहीं पायी, सो मैडम जी गलती पकड़ी गयी और सजा भी मिल गयी. वैसे बस का डीएनए टेस्ट हो या न हो, इनका डीएनए टेस्ट जरूर होना चाहिए कि इनके ब्लड में एंकर / पत्रकार का डीएनए है भी कि नहीं.

वैसे सहारा के क्षेत्रीय चैनल के एक एंकर ने उत्साह में भरकर दिल्ली सामुहिक बलात्कार केस के बारे में टिप्पणी कर दी कि ऐसा तो जानवर भी नहीं करते. इसपर भी एंकर को जवाब – तलब किया गया है. बहरहाल सहारा के एंकरों और भी ढेरों कहानियां है, जो आगे भी आपको बताते रहेंगे. फिलहाल के लिए इतना ही.

2 COMMENTS

  1. हमारे यहां इतनी समझदार एंकर सिर्फ एक ही है जिसने कई मौकों पर अपनी समझदारी का कुछ यूं ही परिचय दिया है। वो एक बड़े अधिकारी की बहू हैं सिर्फ यही है उनका कुल हासिल। उन्हें बेवकूफी भरी एंकरिंग के लिए न्यूज 24 में ऑफ एयर कर दिया गया था लेकिन अपने ससुर के दम पर सहारा में नौकरी पा गयीं फिर क्या था सहारा तो ही जुगाड़ वालों का चैनल…सहारा की प्राइम टाइम एंकर बन गईं —- शिखा। वैसे ये बड़े अफसोर की बात है कि सहारा में एक भी पढ़ी लिखी, समझदार महिला एंकर नहीं है। शर्म करो सहारा श्री

  2. Sabse pahle to mai ye bolna chahunga ki MK NEWS channel khabro ki duniya me apni pohoch banane ki kosis kar raha hai….. Agar ye news channel apne kaam k dam par dusron ko galat sabit kare to koi baat bhi hai…. Par inhe dekhiye Bematlab ki baato ko tul dekar dusro ko badnaam karne ki kosis ki jaa rahi hai. But inhe maloom nahi hai ki insb baato ka kisi v logo par koi asar nahi hoga…. balki inhe hi kop ka bhajan banna parega…… Mai to inhe ek hi salah dunga ki apne bematlab ki baato ko apne paas rakhen aur ye jaan len ki dusro ko badnaam karne ki har kosis bekar hai…. chahe wo deepak ji ke bare me ho ya punya prosoon k bare me ya phir sahara ki anchor k bare me…… Kuch kehne se pahle apni saakh bana len…..

    Thanks

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + 14 =