ज़ी न्यूज़ की एंकर रुबिका लियाकत को प्रोफेशनल होने की जरूरत है

निजी चैनल 'ज़ी' की न्यूज़ ऐंकर सुश्री रुबिका लियाक़त ने जिस तरह 'जीतन राम मांझी' से लाइव बात की वह बेहद दुःख भरी है. मैं शॉक्ड हूँ. 'जीतन राम मांझी' बिहार प्रदेश के मुख्य मंत्री हैं. राजनीति में उनका विराट अनुभव रहा है. जन-प्रतिनिधि के रूप में भी इस तरह उन्हें इंगित चैनल पर अपमानित नहीं किया जाना चाहिए था. यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

0
13183
rubika liyaquat bold anchor
rubika liyaquat bold anchor

रंजन जैदी,वरिष्ठ पत्रकार

rubika-jitan-ramनिजी चैनल ‘ज़ी’ की न्यूज़ ऐंकर सुश्री रुबिका लियाक़त ने जिस तरह ‘जीतन राम मांझी’ से लाइव बात की वह बेहद दुःख भरी है. मैं शॉक्ड हूँ. ‘जीतन राम मांझी’ बिहार प्रदेश के मुख्य मंत्री हैं. राजनीति में उनका विराट अनुभव रहा है. जन-प्रतिनिधि के रूप में भी इस तरह उन्हें इंगित चैनल पर अपमानित नहीं किया जाना चाहिए था. यह घटना बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है.

रुबिका लियाक़त को प्रोफेशनल होने की ज़रुरत है. सतही अध्ययन के कारण उनका हाल उस कंकरियों वाले ख़ाली डिब्बे जैसा है जो ठोकर लगते ही ज़ोर-ज़ोर से खड़खड़ाने लगता है. मैं उस रुबिका को आगे बढ़ते देखना चाहता हूँ जिसने होली और ईद के लाइव-शो मेरे घर से किये थे और दुनिया भर में उन कार्यक्रमों को सराहा गया था.

न्यूज़ एंकर के रूप में जिस रुबिका को मैंने देखा, उसके परफार्मेंस से मैं बहुत निराश हुआ हूँ. जो गर्दन उठकर चलते हुए आसमान के ब्लैक-होल्स को तलाश्लेने का गुरूर पालने लग जाते हैं, वे ठोकर खाकर ऐसे गिरते हैं कि फिर अपने पैरों पर खड़े नहीं हो पाते हैं. ज़ी के सीईओ का विराट अनुभव शायद रुबिका को ज़मीन पर लाने में कामियाब हो जाये.

(लेखक के एफबी वॉल से साभार)

Rubika Liyakat hd Wallpepar :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen − eight =