RSS और NDTV की जुगलबंदी

0
1455

दिलीप मंडल,वरिष्ठ पत्रकार-

चुनाव आयोग के डर से, NDTV ने बीजेपी को आगे दिखाने के लिए यूपी में चुनाव के बीच ओपिनियन मेकिंग पोल नहीं किया। ग्राउंड रिपोर्ट के आधार पर बीजेपी को आगे दिखाकर हवा बनाई।

बाक़ी का काम RSS ने कर दिया। उसकी साइट इस ख़बर को ले उड़ी।

“देखो सबसे सेकुलर चैनल ने भी बीजेपी को आगे दिखाया है। कोई शक?”

यह देखिए अापके तथाकथित सेकुलर चैनल की कम्यूनल करतूत का संघी चैनलों ने कैसे इस्तेमाल किया।

NDTV ने बिहार में बीजेपी के पक्ष में चलाए गए अपने अभियान के लिए माफ़ी माँगी थी। अब वह यूपी में बीजेपी के लिए खुलकर माहौल बना रहा है। कुछ मासूम और कुछ गंजेड़ी इसे सेकुलर चैनल बताते हैं।

शर्म इनको मगर नहीं आती!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten − 2 =