NDTV के समर्थन में तमाम चैनल प्रसारण रोके : मुकेश कुमार

1
652
मीडिया खबर के कॉन्क्लेव में डॉ.मुकेश कुमार हैशटैग पत्रकारिता पर अपनी बात रखते
मीडिया खबर के कॉन्क्लेव में डॉ.मुकेश कुमार हैशटैग पत्रकारिता पर अपनी बात रखते




-मुकेश कुमार-

मुकेश कुमार
डॉ.मुकेश कुमार,वरिष्ठ पत्रकार

अगर भारतीय मीडिया इमर्जेंसी की आहट को सचमुच सुन पा रहा है तो कायदे से उन चौबीस घंटों में तमाम न्यूज़ चैनलों को प्रसारण रोक देना चाहिए जिस समय एनडीटीवी पर बैन लगाया गया है और अगले दिन अख़बार भी नहीं निकलने चाहिए।

हालाँकि मीडिया जिस तरह से सरकार की गोद में बैठ चुका है या उससे आतंकित होकर व्यवहार कर रहा है उसे देखते हुए इस तरह के प्रतिरोध की उम्मीद बेमानी लगती है लेकिन अगर वह समझ पाया कि ये हमला केवल एनडीटीवी या, मीडिया पर नहीं बल्कि समूचे लोकतंत्र पर है तो शायद उनका विवेक एवं अंतरात्मा उसे सही राह दिखा देंगे।

आमीन।

(टिप्पणीकार वरिष्ठ पत्रकार हैं. @FB)




1 COMMENT

  1. ndtv par ban par itna rona-pitna kyon? 24×7 to aap sarkaar ki burai karte haein panni pi pi kar aur ek din ke liye aisi gatibvidhi jo dekh ke khilaf jati hae, uske kaaran yadi aap par ban hota hae to yah media ko sikhane ke liye hae ki desh aur uski sarkaar sarvopari hae. Media apne aap ko jimmedar media kabhi bana hi nahi saka. yah dukhad hae.
    Media is demecratic country me BJP ki sarkar ke aane ke baad se itna mukhar ho gaya hae jaise hitlar shahi chal rahi hae. jabki aisa nahi hae. chuni sarkar se janta khush nahi hogo to paanch saal intzaar kariye.
    Media par laggam lagana jarulri hae. Aap ko neutral hona aavashyak hae. Afsos ndtv type channel neutral nahi haen.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 2 =