स्टूडियो में गांती वाली एंकर

0
524




“संजय तिवारी,वरिष्ठ पत्रकार” – हा हा हा इस एंकर को देखकर बचपन के दिन याद आ गये। गांव में सर्दियों के दिनों में इसी तरह बच्चों को सर्दी से बचाने के लिए सिर को किसी कपड़े से बांध दिया जाता था जिसे गांती बांधना कहते थे। यह एंकर तो स्टूडियो में ही गांती बांधकर बैठी है।

@fb

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × four =