हरीश रावत को छोड़ अब त्रिवेंद्र रावत की चापलूसी में जुटा अमर उजाला

कहां गई अमर उजाला की वो प्रतिष्ठा? हरीश रावत के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत की जी - हुजूरी में लगा अमर उजाला.

0
1501
amar ujala trivendra rawat

वेद उनियाल-

एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जुबान फिसलने से अजय भट्ट को गलती से यशस्वी मुख्यमंत्री कह गए। नया नया पद संभालते हुए ऐसा कई बार हो जाता है। जब उन्हें ध्यान दिलाया गया तो उन्होने स्थिति को संभालने की कोशिश में कहा कि उनके लिए अजय भट्ट ही मुख्यमंत्री है। यह एक सामान्य कोशिश है। मगर अमर उजाला में लिखता है कि मुख्यमंत्री ने खूबसूरती से स्थिति को संभाला।

– यह दरअसल खूबसूरती से चापलूसी करने का तरीका है। इससे आगे अखबार किस तरह नए निजाम के आग बिछने की कोशिश कर रहा है उसका भी संकेत है।

क्योंकि इस अखबार ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की जमकर चापलूसी की थी। और चुनाव के एक दिन पहले हर जगह की तरह हरिद्वार की 11 सीटों में भी कांग्रेस और राहुल गांधी का जादू दिखा दिया था। यह अलग बात है कि कांग्रेस यहां 8 सीटे हारी। हरीश रावत अपनी सीट तक नहीं बचा सके। स्थानीय संपादक को अक्सर कहते सुना गया था कि हरीश रावत उनके लिए बादशाह अकबर की तरह हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + 10 =