मोदी जब मियां नवाज की माँ के लिए बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तब करण जौहर ने फिल्म शुरू की थी

0
517
मोदी जब मियां नवाज की माँ के लिए बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तब करण जौहर ने फिल्म शुरू की थी
मोदी जब मियां नवाज की माँ के लिए बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तब करण जौहर ने फिल्म शुरू की थी

(मुंबई से संजय तिवारी) –

मोदी जब मियां नवाज की माँ के लिए बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तब करण जौहर ने फिल्म शुरू की थी
मोदी जब मियां नवाज की माँ के लिए बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तब करण जौहर ने फिल्म शुरू की थी




“ऐ दिल है मुश्किल” को ले कर इतना बखेड़ा क्यों खड़ा हो रहा है सच कहूँ तो समझ से ही बाहर है.करण जौहर ने यह फिल्म तब स्टार्ट की थी जब मोदी जी नवाज़ साहब की माँ के लिए खीर और बनारसी साड़ी ले जा रहे थे तो नवाज़ साहेब मोदी जी के माँ के लिए कश्मिरी शॉल भेजवा रहे थे याराना इस हद तक हो गया था कि मोदी जी नवाज़ साहेब का बर्थडे मनाने के लिए बिना किसी प्लान के भी प्लेन को पाकिस्तान उतरवा दिये थे और चुकि बर्थडे का माहौल था तो निसंदेह मोदी जी ने नवाज साहेब के लिए सॉंग भी जरूर गाया होगा कि “तुम जियो हज़ारो साल और साल के दिन हो पचास हज़ार” ….

खैर एक वो दिन था और एक आज का दिन है उस समय हलात ऐसे हो गये थे की बहुत लोगो ने नवाज़ साहेब मोदी जी के मूड को देख कर बीज बो दिए थे उन्ही में से एक है हमारे करण जौहर साहेब वो भूल गए की बीज बोने और फल पक कर तैयार होने में वक़्त लगता है…. मोदी साहेब का तो पता नहीं पर उनके आस पास और उनकी पार्टी में भी कुछ ऐसे लोग है जिन्होंने अपने आप को राष्ट्रवादी घोषित कर रखा है खुद को कुछ आये या ना आये लेकिन सिखाने का पुरा दारोमदार इन ढोगियों ने अपने कंधे पर उठा रखा है…. निसंदेह इस चूतियापे से सभी बिज़नेसमैन चाहे वो मल्टीप्लेक्स हो या सिंगल थियेटर अपने आप को दूर ही रखने की कोशिश करेंगे सो मेरा मानना है कि ऐसे सिच्वेशन में करण जौहर को स्मार्ट मूव लेना चाहिए और इन स्वघोषित राष्ट्रवादियों को सबक सिखाना चाहिए.

So करण जौहर bro. here is the plan…. देश में इनकी संख्या बहुत कम है और मजे वाली बात यह है की इनकी कोई सुनता भी नहीं है सो आप एक काम कीजिये आप अपनी इस फिल्म को Tatasky, Dish Tv, Sun Tv, Airtel, Big Tv के थ्रू रिलीज़ करो और डायरेक्ट आम लोगो के घर तक पहुँच जाओ मेरी बात थोड़ी अजीब लगेगी जरूर but आप तो बिज़नेस मैन है सो थोड़ा कैलकुलेट कर लीजिये.

आज देश में करीब 20 करोड लोगो के पास setup box है आप एक सेटअप बॉक्स से 300 चार्ज कीजिये, Rs 300 में ये फिल्म 3 दिन तक (Friday, Saturday, Sunday) उस सेटअप बॉक्स पर एक्टिव रहेगा जिसे वह परिवार कभी भी और कितनी भी बार देख सके। …. आज कोई भी फैमिली अपने बच्चों के साथ मल्टीप्लेक्स में फिल्म देखने जाते है तो 2000 तक खर्च हो जाते है ऐसे में अगर आप इस फेस्टिवल सीजन में ओनली 300 चार्ज करते है तो निसंदेह 1 करोड़ से 2 करोड़ तक लोग सब्सक्राइब कर सकते है means फिल्म का box office collection 300 करोड़ से 600 करोड़ हो सकता है…. 3 दिन बाद रेट डाउन कर सेटअप बॉक्स पर continue कर सकते है, सैटेलाइट राईटस और ओवरसीज़ राइट्स कलेक्शन आयेंगे सो अलग है.

अभी भी बॉलीवुड़ फ़िल्मस को 300 और 500 करोड़ कलेक्शन करने में महीनो लग जाते है ऐसे में अगर ये एक्सपेरीमेंट सक्सेस हो गया तो ना सिर्फ one week में ऐ दिल है मुश्किल 300 और 500 Crore कलेक्शन क्रॉस हो जायेगा बल्कि एक नये तरह की बिज़नेस की शुरूआत भी हो जाएगी.

करण जी बचपन में पढ़ा था कि necessity is the mother of invention so देख लीजिये प्लान शेयर कर दिया है अभी के राजनैतिक हालात और छुटियोँ का मौसम तो यही कह रहे है कि एक्सपेरिमेंट करने का यह बेस्ट मौका है. @fb

(लेखक के विचार से वेबसाईट के संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं. ये लेखक के अपने व्यक्तिगत विचार है)




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × four =