आजतक चैनल मेरा राजनीतिक करियर बर्बाद करना चाहता है : आजम खान

1
295

azam-khan_clarificationलखनऊ। आजतक ने कल ‘ऑपरेशन दंगा’ दिखाया। उसके बाद हंगामा मच गया। ऊँगली समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता ‘आजम खान’ की तरफ उठी। स्टिंग ऑपरेशन में पुलिसवाले ने आजम खान का ही नाम लिया है। इससे आज़म खान बुरी तरह बौखला गए और आनन – फानन में प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर अपनी सफाई पेश की। प्रेस कांफ्रेंस में आजम खान ने कहा कि साजिशन मेरा नाम लिया जा रहा है। मैंने ऐसा कोई आदेश नहीं दिया था। उनका इससे कोई लेना-देना नहीं है। साजिशन उनका नाम खींचा जा रहा है। वह सच्चाई और साफ-सुथरी जिंदगी गुजारते हैं। साजिशन चैनल ने उनका राजनीतिक करियर दागदार करने की कोशिश की है। लगता है कि वह चैनल किसी के लिए काम कर रहा है।

आजम ने कहा कि समाचार देखने से ही लग जाता है कि दारोगा के मुंह में अपनी बात डालकर कहलवाई गई। उन्होंने कहा कि प्रोफेशनली भी यह गलत बात है। उस जिले में टेलीफोन कॉल्स के रिकॉर्ड निकलवाए जा सकते हैं। मैंने किसी को कोई फोन नहीं किया। हो सकता है हमारे नाम से किसी ने किया हो। मेरे नाम से कोई फोन करता है तो मैं कैसे मुजरिम हो सकता हूं।

आजम ने कहा कि चैनल में दिखाए जा रहे स्टिंग ऑपरेशन सच हो तो मैं जीने के बजाय मर जाना बेहतर समझूंगा। उन्होंने कहा कि चैनल ने जिस तरह का काम किया उससे लगता है कि कुछ लोग मेरा राजनीतिक करियर डैमेज करना चाहते हैं।
आजम ने कहा कि अगर विपक्ष ने सदन चलने दिया तो यह सारी बातें वहां आएंगी। उन्होंने कहा कि स्टिंग आपरेशन पर न तो उन्हें कोई सफाई देनी है और न ही उन्हें गुस्सा है। मुजफफरनगर जिले का प्रभारी होने के नाते वह तो केवल वहां की कानून व्यवस्था बनाए रखना चाहते हैं।

(एजेंसी)

1 COMMENT

  1. कवाल गाव में 27 अगस्त को सचिन अपनी बहनों के साथ स्कूल से आ रहा था क्योंकि कवाल गाव का शहनवाज़ कुरैशी नाम का लड़का उनको छेड़ता था उसको पहले भी एक बार समझाया था पर वो नहीं माना, हद तो तब हो गयी जब उस दिन उसने सचिन के सामने ही उसकी बहन को गलत शब्दों का इस्तेमाल किया इस बात पर सचिन और शहनवाज की तीखी बहस हुई और सचिन ये कहकर वहा से चला गया की तुझको अभी बताउगा और वह अपनी मुमेरे भाई गौरव को साथ ले कर आ गया शाहनवाज़ को पहले ही पता था की वह जरुर वापस आएगा इसलिय उसने पहले ही 10-12 लड़के इकठे कर लिय 15-20 मिनट मैं सचिन और गौरव कवाल पहुच गये , उसके बाद गौरव और शहनवाज़ मैं बहस हुई गौरव बोला की तू ऐसा क्यों करता है शहनवाज़ बोला अभी तो छेड़ा ही है अभी आगे तो मै तेरी ही नही जाटो की हर लडकियों को चो…गा भी |

    इस पर शहनवाज और गौरव में हाथापाई हो गई इस दोरान शहनवाज़ ने कट्टे से फायर कर दिया जो की बैक फायर से शहनवाज को उल्टा लग गया इस पर गौरव और सचिन पूरी तरह डर गये और भागने की कोसिस की गई परन्तु भाग न सके शहनवाज़ के भाई व साथियों ने उनको घेर लिया और उनको डंडो से पिटे जाने लगा वो कभी इधर भागते कभी उधर कभी नाली मैं गिरते कभी सड़क पर दस बारह जनो के सामने वो बेबस हो गये फिर शहनवाज के भाई व साथियों ने उनको बहुत मारा इतना की वो अधमरे हो गये उसके बाद शाहनवाज ने भाई ने उनके सिने पर चड़कर उनकी सांसो की डोर काटी और सर पर चक्की के बाट से प्रहार करते रहे जब तक की वो पूरी तरह से मर नहीं गये, ये खबर आग की तरह पुरे मुजफ्फरनगर नगर मैं फ़ैल गई जिसके बाद जानसठ के SHO और SDM ने कवाल गाव को चारो तरफ से नाकाबंदी करवा दी जिसमे शहनवाज़ के दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार किये गये 12 लोग थे और कवाल गॉव के एक एक घर की तलासी ली गई ये खबर समाजवादी पार्टी के नेताओ को पता लगी तथा वहां के सांसद कदीर राणा को भी पता लगी जिसमे बसपा सांसद कदीर राणा व् समाजवादी पार्टी अन्य मुस्लिम नेताओ ने DM पर दबाब बनाया की वह उनके खिलाफ कोई कार्यवाही न करे, उनसे कहा गया की वो अपनी FIR मे ये दिखा दे की गौरव और सचिन को भीड़ ने मारा है तथा शहनवाज़ को गौरव , सचिन व् अन्य उनके परिजनों ने मारा है जिसमे की गौरव व् सचिन को भीड़ ने मार दिया वाकी फरार हो गये , जिसके लिय डीएम और SHO ने माना कर दिया जिस कारन उनका 2 घंटे के अन्दर आज़म खान ने ट्रांसफर कर दिया , नये DM ने आकर रात को उनको छुड़वा दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + twenty =