एबीपी न्यूज के प्रोड्यूसरों को जरा भी शर्म नहीं आयी !

1
473

सरकार ने नहीं, एबीपी न्यूज ने सबसे पहले दिया था सचिन को भारत रत्न

abp sachin brसचिन को भारत रत्न दिलाने में एबीपी न्यूज के प्रोडयूसरों का भी अत्यंत अमूल्य अतुलनीय सराहनीय प्रशंसनीय और भारीभरकम योगदान है. भारत सरकार ने तो सचिन को भारत रत्न दिए जाने का ऐलान आज किया लेकिन एबीपी न्यूज पिछले कई दिनों से -भारत रत्न सचिन- नाम से एक प्रोग्राम लेकर आ रहा है जिसमें सचिन के बालसखा विनोद कांबली और उनके बड़े भाई अजीत तेंडुलकर भी शिरकत करते आ रहे हैं.

स्क्रीन पर मोटे-मोटे, बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा होता था- भारत रत्न सचिन-. नीचे सचिन के हस्ताक्षर भी होते थे मानो सचिन ने ये लिखने के लिए हामी भर दी हो. उनको इसकी रॉयल्टी जा रही हो. ये अलग बात है कि ऑफिशियली भारत सरकार ने सचिन को आज भारत रत्न बनाया है लेकिन एबीपी न्यूज के होनहार प्रोडयूसरों ने इसकी घोषणा कई दिन पहले से कर दी थी. डंके की चोट पर. इसे कहते हैं खोजी और भविष्यदर्शी पत्रकारिता का अनुपम उदाहरण. लमय से पहले भांप लेने की कला.. वाह!!

और ये क्या कम है कि आपने सचिन को भारत रत्न से टीवी के पर्दे पर पहले नवाजा और भारत सरकार ने बाद में. आपने सचमुच क्रिकेट की महान सेवा की है. कोई देशभक्त बने और सचिन का फैन कहलाए तो एबीपी न्यूज के प्रोड्यूसरों जैसा.

इन्हें जरा भी शर्म नहीं आई कि देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान का नाम उन्होंने सचिन के साथ जोड़कर ऐसे चलाया जैसे ये बहुत समान्य बात थी. हो सकता है सचिन को यह अवार्ड दो-पांच साल बाद मिलता. तब?? ऐसे तो कोई भी चैनल का प्रोड्यूसर अपने चहेते खिलाड़ी-एक्टर के नाम के आगे पद्मश्री, पद्मभूषण, पद्मविभूषण और भारत रत्न लगाकर चला देगा!! इसकी सजा मिलनी चाहिए. बराबर मिलनी चाहिए. लेकिन जब कुएं में ही भांग पड़ी हो तो कौन जज और कौन मुजरिम. सब के सब मोगैम्बो को खुश करने में लगे हुए हैं.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 5 =